तमिलनाडु में हादसा: विरुधुनगर में अवैध फैक्ट्री में पटाखा बनाते वक्त धमाका; दो लोगों की मौत, दो की हालत गंभीर

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- sponsored -

  • Hindi News
  • National
  • Tamil Nadu Firecrackers Factory Blast Photos Update; Two Killed, Two Injured In Virudhunagar

चेन्नई20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

तमिलनाडु के विरुधुनगर जिले में सोमवार को एक अवैध पटाखा फैक्ट्री में धमाका हो गया। इसमें दो लोगों की मौत हो गई और दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। फैक्ट्री शिवकाशी इलाके के थाइयिलपट्‌टी में थी। सूत्रों के मुताबिक, यहां अवैध रूप से पटाखा बनाया जा रहा था। उसी वक्त धमाका हो गया।

घायलों को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया है, जहां इन लोगों को सीरियस बर्न इंजरी बताई गई है। राहत और बचाव कार्य किया जा रहा है। मौके पर पुलिस और अन्य एजेंसियां पहुंच गई हैं। फैक्ट्री में आग लगने से आसपास के करीब पांच घरों में आग भी लग गई।

धमाका इतना तेज था कि आसपास के घरों को भी काफी नुकसान हुआ है।

धमाका इतना तेज था कि आसपास के घरों को भी काफी नुकसान हुआ है।

फरवरी में हुए हादसे में 19 की मौत हुई थी
इससे पहले फरवरी में विरुधुनगर की ही एक पटाखा फैक्ट्री में आग लग गई थी। हादसे में 19 लोगों की मौत हुई थी और 25 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे। पुलिस ने बताया था कि केमिकल मिक्स करने के दौरान आग लगी थी, जिसे काबू करने के लिए फायर ब्रिगेड की 10 गाड़ियों का इस्तेमाल करना पड़ा था।

पिछले साल मदुरै में ऐसे ही हादसे में 5 लोगों की मौत हुई थी
पिछले साल अक्टूबर में मदुरै में एक पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट हुआ था। इसमें 3 महिलाओं समेत 5 लोगों की मौत हो गई थी। जांच में पता चला था कि वहां भी केमिकल मिक्स करते समय आग लगी थी, जिससे सिलसिलेवार धमाके हुए और लोगों की जान गई।

यहां 8000 से ज्यादा कारखाने-फैक्ट्री
शिवकाशी को भारत की पटाखा उद्योग की राजधानी कहा जाता है। यहां करीब छोटे-बड़े 8000 से ज्यादा कारखाने-फैक्ट्री हैं, जहां पटाखे बनाए जाते हैं। एक अनुमान के मुताबिक, देश के 90% पटाखे यही बनाए जाते हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More