समय से वेतन नहीं मिलने से नाराज,एंबुलेंस कर्मचारी फिर बैठे हड़ताल पर!

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- sponsored -

नालंदा से संवाददाता ऋषिकेश कुमार की रिपोर्ट: बिहार राज्य चिकित्सा कर्मचारी संघ बिहार के तत्वाधान में 102 एंबुलेंस कर्मचारी संघ नालंदा का तृतीय वार्ता विफल होने के कारण आज से फिर 102 एंबुलेंस कर्मचारी संघ नालंदा एवं पूरे बिहार राज्यव्यापी 102 एंबुलेंसकर्मी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। इस संबंध में 102 एंबुलेंस कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष अमित कुमार पांडे ने बताया कि सेवा प्रदाता हमारी न्यायसंगत मांगों को बेबुनियाद बताती है।

उन्होंने कहा दिन प्रतिदिन कर्मचारियों को शोषण का शिकार बनाकर अपनी हिटलरशाही में नाम उजागर करती है। बरसों से 12 घंटे का कार्य करवाकर 8 घंटे का भी वेतन नहीं दिया जाता है, सभी कर्मचारी शोषित होकर मानसिक तनाव में जीवन यापन करने को विवश हैं। इस कारण मजबूर होकर अनिश्चितकालीन हड़ताल करने को एंबुलेंसकर्मी आतुर हैं, कोई भी न्यायसंगत मांग करने पर कंपनी अपनी अर्थव्यवस्था को जाहिर करती है।

- Sponsored -

कोविड-19 के वक्त भी डट कर खड़े रहे हैं एंबुलेंसकर्मी

इस कोरोना जैसी महामारी में दिन-रात अपनी परिवार एवं आपने जान की परवाह किए बिना गरीब असहाय एवं संक्रमित मरीजों को सेवा देने में निरंतर सभी एंबुलेंस कर्मी अग्रसर रहे हैं, इसके परिणामस्वरूप कई एंबुलेंसकर्मी चालक एवं टेक्नीशियन संक्रमित भी हुए हैं।

प्रोत्साहन राशि तो दूर की बात है वेतन भी देने में कंपनी कतराती है, अगर हमारी न्यायसंगत मांग पूरी नहीं होती है तब तक हम सभी 102 एंबुलेंस कर्मी भी राज्यव्यापी अनिश्चितकालीन हड़ताल में कदम से कदम मिलाकर डटे रहेंगे। वहीं कार्यपालक निदेशक के द्वारा हम सभी 102 एंबुलेंस कर्मियों को हड़ताल करने पर केस करने की धमकी भी दी जा रही है।

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More